गुरुवार, अक्तूबर 29, 2015

सच कहते हैं / पुराने लोग



       हम लाख इंकार करें अपनी पिछली पीढ़ी से अपनी सोच के संतुलन के सन्दर्भ में.  परन्तु तमाम मुद्दे हैं जब हम बेसाख्ता कह उठते हैं ,  " सच  कहते हैं , पुराने लोग "  आप अपने अनुभव बाँटिये ,मैं अपने :)



Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

-----------Google+ Followers / mere sathi -----------