बुधवार, फ़रवरी 19, 2014

2 बातें






 मुद्दतें  हुई / ख़ुद  से  मुलाक़ात हुए :)

 ज़िन्दगी / मोहलत पल भर तो मिले !


कहनी - सुननी हैं / दो बातें  मुझको !

काश  मुझको / मेरा  घर तो   मिले !

---------------------------- डॉ. प्रतिभा स्वाति



Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

-----------Google+ Followers / mere sathi -----------