शुक्रवार, सितंबर 13, 2013

डर ...

               --------- हालाकि  ये ' टंका ' है . मुझे  मालूम है पर ....
जाने   क्यूँ  एक सवाल अक्सर सर उठाता  है , हम डरते कब से हैं ? किससे हैं ? और  आख़िर क्यूँ ?
        क्या  इसीलिए  बचपन की  हर  कहानी , एक था  राजा  से शुरू होती थी ? क्या  इसीलिए आ  जाती थी  परियां / राजकुमार / फूल /खुशबू /चाँद /तारे ?
                  जारी -------
------------------------ डॉ . प्रतिभा  स्वाति
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

-----------Google+ Followers / mere sathi -----------