शनिवार, नवंबर 12, 2016

लो आ गए हम .....


ज्यादा  प्रसन्न न हों , ये नकली नोट है !
__________आजकल समाचार और अफ़वाह में मामूली फ़र्क रह गया है  यदि ऐसा है भी तो .... किम आश्चर्यम ? मै लिंक दे रही हूँ  ---------- आप अपने विवेक से काम लें . जयहिंद !



Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

-----------Google+ Followers / mere sathi -----------