गुरुवार, अगस्त 08, 2013

मन ....








___________  शुरुआत के दिनों में जब मुझे animation ज़ुनून की हद तक लुभाते थे , ये उन्ही में से एक है , जो उर्वशी और मेनका की तरह जब भी मेरे तपस्वी मन के समक्ष आता , मन न चाहते हुए भी , इसपर एक हाइकू लिखता :)
----------------- animation pic पर लिखना ज़रा मुश्किल होता है ! तब ,जब लेपटॉप से काम लिया जा रहा हो ! लेकिन मन जब ठान ले तो मुश्किलें स्वत : आसन होती चली जाती हैं :) यही मेरे साथ भी हुआ !
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

-----------Google+ Followers / mere sathi -----------